जीभ का रंग बताएगा आपकी सेहत का हाल
जीभ का रंग बताएगा आपकी सेहत का हाल

जीभ का रंग बताएगा आपकी सेहत का हाल, जानें ये 8 संकेत: जीभ हमारे शरीर का बहुत ही महत्वपूर्ण अंग है ये इतनी इंटेलिजेंट है कि जब भी हमारे शरीर मे कुछ अंदर गड़बड़ होने लगती है तो यह हमें कुछ संकेतो के माध्यम से इशारा कर देती है हमें बस उन इशारों को समझ के उसपे ध्यान देना है।

आयुर्वेद के माधव निदान ग्रंथ मे वर्णित जीभ के ऐसे 8 संकेतो के बारे मे बताएंगे जो आपकी की सेहत का हाल बताते है

1. जीभ के अगले सिरे पर कट का निशान बन जाना।

क्या आपने नोटिस किया है कि कभी कभी जीभ के सिरे पे एक छोटा सा कट बन जाता है ये संकेत हे ह्रदय मे जमाव का। जीभ का हर हिस्सा शरीर के किसी एक अंग को दर्शाता है। अंगों में किसी भी तरह की गड़बड़ी जीभ पे इसी हिसाब से प्रकट होती है।

ह्रदय से संबंधित अगर आपको कोई भी समस्या हो रही है तो आयुर्वेद कहता है आप इसमे अर्जुन की चाय उत्तम है। अर्जुन वृक्ष की छाल को उबालकर ये सामान्य चाय की तरह ही बनाई जा सकती है इसके लाजवाब फायदे हैं।

2. जीभ का अक्सर लाल रहनाजीभ का लाल होना

जीभ का अक्सर लाल रहना संकेत है शरीर में बड़ी गर्मी का। शरीर की गर्मी को शांत करने के लिए आपको रोज 10 मिनट के लिए शीतली प्राणायाम करना चाहिए। ज्यादा तीखा और मसालेदार खाना ना खाएं बल्कि अपनी डाइट में ठंडी तासीर की चीजों को जोड़े।

3. जीभ पर दांत के निशान बनना

जीभ पर दांत के निशान बनना ये साफ संकेत है कि आपका शरीर खाने में न्यूट्रिएंट्स को एब्जॉर्ब नहीं कर पा रहा है। ये सामान्यतः तब होता है जब आप खाना तो भारी कर रहे हो, लेकिन शरीर उसे पचा न पा रहा हो।

इसके समाधान के लिए खाना शुरू करने से पहले आप अदरक पर सेंधा नमक लगा के खाएंगे तो पाचन शक्ति प्रज्जवलित होगी।

4. जीभ के बीच में गहरा क्रैक होना।

ये संकेत है नर्वस सिस्टम में गड़बड़ी का। यह तब होम लगता है जब आप आप काफी तनाव में हैं। इसे दूर करने के लिए आप रोज रात को सोने से पहले दोनों नासिका में दो दो बूंद देसी गाय का घी या बादाम रोगन डाल लो। 10 10 मिनट के लिए अनुलोम विलोम और भ्रामरी प्राणायाम करने से भी बहुत शांति अनुभव होगी।

5. जीभ का उबड़ खाबड़ होना।

यह संकेत है की आपके शरीर मे वात दोष बड़ गया की। वात दोष को कम करने के लिए शरीर की लुब्रिकेशन जरूरी है, जिसके लिए ऑयली फूड्स को भोजन में शामिल करना चाहिए। तिल के तेल से ऑयल पुलिंग करना और शरीर की मसाज करना बहुत लाभदायक होगा।

6. जीभ का जरूरत से ज्यादा चमकदार होना।

अगर आपकी जीभ जरूरत से ज्यादा चमकदार तो यह साफ संकेत है कि आपके भोजन में इम्पॉर्टेंट न्यूट्रिएंट्स की कमी है। हो सकता है आप बाहर का जंक फूड रेगुलर खाते हैं इसलिए आपको घर का बना ताज़ा भोजन खाना चाहिए। साथ में मौसमी फल और सब्जियों को भी शामिल करें।

7. जीभ मे अधिक लार बनना

जीभ मे अधिक लार बनना संकेत शरीर का ऑयली होना। इसको संतुलित करने के लिए आपको डाइट में ऑयली भोजन और मिल्क प्रोडक्ट्स को कम करना चाहिए आपको सलाद, जिंजर, टी और बेसन बेस्ड फ्रूट्स अधिक खाने चाहिए।

8. जीभ का सफ़ेद होना।जीभ का सफ़ेद होना

जीभ का सफ़ेद होना संकेत है की आपके शरीर मे आयरन और हीमोग्लोबिन की कमी है। आयरन की कमी को दूर करने के लिए सबसे आसान है आयरन के बर्तन में खाना पकाएं। खून की कमी के लिए आम, गाजर, चुकंदर, अनार, सेब और मकई का सेवन करें।

दोस्तो कोई भी समस्या एकदम से नहीं होती। किसी भी गड़बड़ी का संकेत शरीर हमें अलग अलग तरीके से देती है। हमें बस चाहिए कि शरीर के इन संकेतो को समझें और उनका समाधान नैचुरल तरीके से उसी वक्त कर दें ताकि समस्या बढ़े नहीं।

Previous article8 Ways Bitcoin Is Used In the Real World
Next articleHow to Protect Against Computer Viruses
Saroj Rai is an Author, writer and blogger. He has knowledge and understanding of Digital Marketing, content, online jobs, make money online and market research. Please contact me at sarojraidigital@gmail.com for any feedback or concern.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here